कोरोना महामारी की भारत में बदलती सूरत : डॉ बिन्दल

देश में , कोरोना का पहला मामला आने से आज लॉकडाउन के दूसरे चरण के अंतिम दिन तक देश में बहुत कुछ बदला है । इटली , फ्रांस , इंग्लैंड आदि देशों की विकट स्थिति को देखकर जो देश भर में भय व्याप्त हो गया था , उससे देश बाहर निकलता दिखाई देने लगा है ।

यह बात भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डॉ0 राजीव बिन्दल ने एक प्रैस बयान में कही । उन्होनें कहा कि तीसरे लॉकडाउन के शुरू होने तक देश के 50 प्रतिशत भू – भाग में 90 प्रतिशत गतिविधियां शुरू होने जा रही है । जो देश पीपीई किट व एन – 95 मास्क जैसी छोटी वस्तु के लिए इंपोर्ट पर निर्भर था आज देश दो लाख पीपीई किट व साढ़े चार लाख एन – 95 फेस मास्क भारत में बन रहे हैं । जहां कोविड टेस्ट के लिए देश में नाम मात्र की व्यवस्था थी आज 70 हजार टेस्ट प्रतिदिन हो रहे हैं।

भारत 10 लाख टेस्ट कास करने वाला दुनिया का पांचवा देश बन गया है और एक सप्ताह के अंदर एक लाख टेस्ट प्रतिदिन होना शरू हो जाएंगे ।

डा0 बिन्दल ने कहा कि भारत में कोरोना के मरीजों में गंभीरता के लक्षण कम हैं , परिणामस्वरूप 0 . 32 प्रतिशत लोग ही बैंटिलेटर पर हैं । गंभीरता इस बात की है कि देश के सभी बड़े शहर रैड जोन में तबदील हो चुके हैं व संख्या इन शहरों में बढ़ रही है । इसलिए मैडिकल इंतजामात और अधिक बढ़ाए जा रहे हैं । बड़ी संख्या में एक स्थान से दूसरे स्थान पर आवागमन से कोविड के फैलने का भय बरकरार रहेगा । राष्ट्रीय स्तर पर आर्थिक गतिविधियों को बढ़ाने का काम शुरू कर दिया है । किसान , मजदूर के लिए लगातार राहत राशियां जारी दी जा रही है । इसमें किसान सम्मान निधि , जनधन खातों में पैसे डालना , उज्जवला योजना के लिए निशुल्क गेस सिलेंडर व निशुल्क चावल , चने का प्रावधान जैसी योजनाएं शामिल हैं । उन्होनें कहा आर्थिक गतिविधियों को बढ़ाने व नकदी बढ़ाने के लिए डेढ़ लाख करोड़ रू0 आर0बी0आई0 ने जारी कर दिए हैं । लघु एवं मध्यम उद्योगों को जीवित रखने के लिए राहत पैकेज आने की उम्मीद की जा रही है । सभी स्थितियों को देखते हुए ऐसा प्रतीत होता है कि भारी कठिनाईयों के बावजूद देश कुछ हद तक सुरक्षित दिखाई देता है । इस स्थिति के लिए भारत देश के 130 करोड़ नागरिक धन्यवाद के पात्र हैं जिन्होनें सरकार के व श्री नरेन्द्र मोदी जी के व प्रदेश की सरकारों के आदेशों को मानते हुए नियमों की अनुपालना की है । मोदी जी जैसा नेतृत्व हमारे देश को मिला यह सबसे बड़ा कारण बना । आज कोविड से लड़ाई समाप्त नहीं हुई है , अभी लंबी लड़ाई लड़नी होगी । मोदी जी ने सही कहा – जान है तो जहान है . सावधानी हटी , दुर्घटना घटी , दो गज की दूरी है बहुत जरूरी , फेव कवर लगाए . सुरक्षा पाएं । आओ , हम सब मिलकर कोरोना के इस युद्ध में मोदी जी के आदेशों का अनुसरण करें ।