संपन्न वर्ग के लोगों से स्वेच्छापूर्वक सब्सिडी छोड़ने का आग्रह

मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने अपने पिछले बजट भाषण में मंत्रियों, विधायकों, अधिकारियों और संपन्न वर्ग से सार्वजनिक वितरण प्रणाली के अंतर्गत वितरित किए जाने वाले खाद्यान्नों को स्वेच्छा से छोड़ने का अनुरोध किया था।

शिमला, खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले विभाग ने प्रदेश के श्रेणी-1 व श्रेणी-2 अधिकारियों और संपन्न वर्ग से सार्वजनिक वितरण प्रणाली के अंतर्गत खाद्यान्नों पर मिलने वाली सब्सिडी को स्वेच्छा से छोड़ने का आग्रह किया है, ताकि इसका लाभ पिछड़े व गरीब वर्ग को मिल सके।
विभाग के एक प्रवक्ता ने आज यहां कहा कि मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने अपने पिछले बजट भाषण में मंत्रियों, विधायकों, अधिकारियों और संपन्न वर्ग से सार्वजनिक वितरण प्रणाली के अंतर्गत वितरित किए जाने वाले खाद्यान्नों को स्वेच्छा से छोड़ने का अनुरोध किया था।

उनकी अपील पर प्रदेश के मंत्रियों, अधिकांश विधायको और कुछ अन्य परिवारों ने सब्सिडी छोड़ दी है। उन्होंने कहा कि विभाग ने इस उद्देश्य के लिए फार्म निर्धारित किया है, जिसे सभी विभागीय वेबसाइट पर अपलोड किया गया है। कोई भी इच्छुक व्यक्ति इस फार्म को भरने के उपरांत संबंधित निरीक्षक को जमा करवाकर अपनी सब्सिडी छोड़ सकता है।
विभाग ने प्रदेश के सभी एपीएल उपभोक्ताओं से स्वेच्छा से सब्सिडी छोड़ने का आह्वान किया है, ताकि जरूरतमंदों को लाभान्वित किया जा सके। इस संदर्भ में विभाग के टोल फ्री नंबर 1967 पर संपर्क किया जा सकता है।