आज है अंतर्राष्ट्रीय पत्रकारिता स्‍वतंत्रता दिवस

हिमाचल, अंतरराष्ट्रीय पत्रकारिता स्वतंत्रता दिवस जो हर वर्ष 3 मई को मनाया जाता है ।

वर्ष 1991 में यूनेस्को और संयुक्त राष्ट्र के ‘जन सूचना विभाग’ ने मिलकर इसे मनाने का निर्णय किया था। ‘संयुक्त राष्ट्र महासभा’ ने भी ‘3 मई’ को ‘अंतर्राष्ट्रीय पत्रकारिता स्‍वतंत्रता दिवस’ की घोषणा की थी। यूनेस्को महासम्मेलन के 26वें सत्र में 1993 में इससे संबंधित प्रस्ताव को स्वीकार किया गया था।

इस दिन के मनाने का उद्देश्य प्रेस की स्वतंत्रता के विभिन्न प्रकार के उल्लघंनों की गंभीरता के बारे में जानकारी देना है। इसके उद्देश्यों में प्रकाशनों की कांट-छांट, उन पर जुर्माना लगाना, प्रकाशन को निलंबित कर‍ देना और बंद कर‍ देना आदि शामिल है।

आज इस संकट की घड़ी में जब पूरा विश्व इस कोरोना महामारी से जूझ रहा है तब सभी पत्रकार बंधु अपनी और अपने परिवार की जान संकट में डाल अपना कार्य निष्ठापूर्वक कर रहे है। कोरोना के समय जिस प्रकार से पत्रकारों ने सभी सूचनाएं लोगों और सरकार तक पहुंचाई है उसके लिए सभी पत्रकार जगत के साथियों को सलाम।

देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लॉकडाउन के प्रथम दिन से ही इन सबको कोरोना योद्धाओं की क्षेणी में रखा है। आप सब कोरोना योद्धाओं को पुनः एक बार अन्तरराष्ट्रीय पत्रकारिता स्वतंत्रता दिवस की सुभकामनाए।